SP नार्थ के पास रहेगा नया बना गीडा सर्किल: गीडा को अलग सर्किल बनाने के प्रस्ताव पर लगी मुहर;आज होगी पोस्टिंग,9 सर्किल बनने के बाद शहर में आया गुलरिहा

0
16

Smart Newsline (SN)

Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join)

गोरखपुर18 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

गीडा थाने के अलावा सहजनवां और हरपुरबुदहट थाने को गीडा सर्किल का हिस्सा बनाया है।

गोरखपुर जिले की पुलिसिंग में बुधवार को एक और बड़ा बदलाव कर दिया गया। पूरे जिले को आठ की जगह अब नौ सर्किल में बांट दिया गया है। एसएसपी डॉ विपिन तांडा ने गीडा इलाके को एक अलग सर्किल बनाया है। गीडा थाने के अलावा सहजनवां और हरपुरबुदहट थाने को इसका हिस्सा बनाया गया है। अभी तक गीडा और सहजनवां थाना कैम्पियरगंज सर्किल का हिस्सा था। जबकि हरपुरबुदहट खजनी सर्किल का हिस्सा था।

पहले तहसील के हिसाब से बंटा था सर्किल
दरअसल, पहले तहसील के हिसाब से सर्किल का बंटवारा किया गया था। जितनी तहसील उतनी सर्किल जिससे पुलिस और प्रशासनिक आधिकारियों का तालमेल आपस में ठीक बना रहे। प्रशासनिक अधिकारियों की तरफ एसडीएम और पुलिस की तरफ से सर्किल अफसर यानी सीओ की देखरेख में लॉ-एंड आर्डर पर काम किया जा सके।

हालांकि गोरखपुर जिले की भौगोलिक स्थिति के हिसाब से इसमें बदलाव किया जाता रहा है। हाल के दिनों में गीडा का विस्तार होने के साथ ही यह कैम्पियरगंज की सर्किल में आने की वजह से इसमें बड़े बदलाव की जरूरत महसूस की जा रही थी। एसएसपी ने इसी बदलाव के तहत एक नए सर्किल को जन्म देने का प्रस्ताव तैयार किया था। प्रस्ताव पर मुहर लगने के बाद गोरखपुर जिले में नौ सर्कल अस्तित्व में रूप में आ गया। गीडा सर्किल का नया सीओ अब कभी भी तैनात किया जा सकता है। माना जा रहा है कि बुधवार देर रात यहां नए सीओ को तैनात कर दिया जाएगा।

एसएसपी विपिन तांडा ने पूरे जिले को 9 सर्किल में बांट दिया है। नया गीडा सर्किल अब एसपी नार्थ के हवाले रहेगा।

एसएसपी विपिन तांडा ने पूरे जिले को 9 सर्किल में बांट दिया है। नया गीडा सर्किल अब एसपी नार्थ के हवाले रहेगा।

एसपी उत्तरी के क्षेत्र में गीडा सर्किल
गीडा सर्किल बनने के बाद यह कयास लगाया जा रहा था कि भौगोलिक स्थिति देखकर एसपी दक्षिणी के क्षेत्र में इसे शामिल किया जाएगा लेकिन ऐसा होने से एसपी उत्तरी के क्षेत्र से सहजनवां और गीडा थाना हटने से करीब दो दो थाना कम हो जा रहा था। वहीं दक्षिणी में यह थाना बढ़ जाता। इस वजह से अब फैसला लिया गया है कि गीडा सर्किल एसपी उत्तरी मनोज कुमार अवस्थी के क्षेत्र में ही रखा जाएगा। इसके साथ ही एसपी दक्षिणी के हिस्से से हरपुरबुदहट थाना निकाल कर एसपी उत्तरी के क्षेत्र में शामिल किया गया है।

फिर शहर में आ गया गुलरिहा
सर्किल बढ़ने के साथ कुछ सर्किल में बदलाव भी हुआ है। इसमें गोरखनाथ सर्किल शामिल है। अभी तक गोरखनाथ सर्किल में सिर्फ दो थाना गोरखनाथ और शाहपुर शामिल था लेकिन अब इसमें गुलरिहा थाना भी बढ़ा दिया गया है। पहले गुलरिहा थाना चौरीचौरा सर्किल में था जिससे काफी दिक्कत हो रही थी। अब चौरीचौरा सर्किल अपने पुराने फार्मेट में यानी पिपराइच, झंगहा और चौरीचौरा इलाके के साथ ही रहेगा।

गुलरिहा थाना फिर शहर में आ गया। अब यह गोरखनाथ सर्किल का हिस्सा होगा और एसपी सिटी के क्षेत्राधिकार में रहेगा।

गुलरिहा थाना फिर शहर में आ गया। अब यह गोरखनाथ सर्किल का हिस्सा होगा और एसपी सिटी के क्षेत्राधिकार में रहेगा।

गुलरिहा थाना चौरीचौरा से निकल कर गोरखनाथ सर्किल में शामिल होने से अब गुलरिहा थाना शहर का हिस्सा बन गया है यानी अब एसपी सिटी कृष्ण कुमार विश्नोई के दायरे में यह थाना आ गया है। इससे पहले एसपी नार्थ के दायरे में था। हालांकि चिलुआताल कैम्पियरगंज सर्किल का हिस्सा बना रहेगा इसी के साथ यह एसपी नार्थ के क्षेत्र में ही रहेगा।

इस तरह की गई है नई व्यवस्था
गीडा सर्किल में सहजनवां, गीडा और हरपुर बुदहट थाना, खजनी सर्किल में खजनी,सिकरीगंज और बेलघाट थाना, गोला सर्किल में गोला, उरूवा और बड़हलगंज थाना, बांसगांव सर्किल में बांसगांव, गगहा और बेलीपार थाना, कैंट सर्किल में कैंट, खोराबार और रामगढ़ताल, कोतवाली सर्किल में कोतवाली, तिवारीपुर, राजघाट थाना है।गोरखनाथ सर्किल में गोरखनाथ, शाहपुर और गुलरिहा थाना, कैम्पियरगंज सर्किल में कैम्पियरगंज के अलावा चिलुआताल और पीपीगंज थाना शामिल किया गया है।

एम्स थाने का भी नोटिफिकेशन हो गया है। जल्द ही यहां पुलिसकर्मियों की तैनाती की जाएगी। दो दिन पहले एसएसपी विपिन तांडा ने थाने का निरीक्षण किया था।

एम्स थाने का भी नोटिफिकेशन हो गया है। जल्द ही यहां पुलिसकर्मियों की तैनाती की जाएगी। दो दिन पहले एसएसपी विपिन तांडा ने थाने का निरीक्षण किया था।

एम्स थाने का भी हुआ नोटिफिकेशन
एसएसपी ने बताया कि लंबे समय से यूपीकॉप एप में चल रहे एम्स थाना भी असतित्व में आ गया है। इसका भवन पूरी तरह से बन गया है। थाने का नोटिफिकेशन भी हो गया है। बस थानेदार और पुलिसकर्मियों की तैनाती बाकि है। माना जा रहा है कि जल्द ही यहां थानेदार समेत अन्य पुलिसकर्मियों की तैनाती कर दी जाएगी। जिसके बाद नए एम्स थाने में कैंट थाने के इंजीनियरिंग कॉलेज चौकी, एम्स चौकी, एयरफोर्स चौकी के गांव और मोहल्ले शामिल होंगे। वहीं शाहपुर के झरना टोला चौकी के मोहल्ले और खोराबार के रजही हल्का और सिक्टौर हल्का भी एम्स थाने में शामिल होगा। इसके अलावा फोरलेन थाने का भी प्रस्ताव बनाया जा रहा है। जिस​में शामिल होने वाले एरिया के बारे में पुलिस अधिकारी भौतिक सत्यापन कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं…

For breaking news and live news updates, like Smart Newsline on Facebook or follow us on Twitter & Whatsapp