बड़ी लापरवाही:: निगम कमिश्नर के आदेश के बाद भी ठेकेदार को नहीं किया ब्लैक लिस्ट, नहीं बन पा रही हार्डवेयर-प्याली रोड, लाखों पब्लिक परेशान

0
8

Smart Newsline (SN)

Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join)

  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Faridabad
  • Even After The Order Of The Corporation Commissioner, The Contractor Was Not Blacklisted, Hardware cup Road Could Not Be Built, Lakhs Of Public Were Upset

फरीदाबाद34 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

एनआईटी की कई कॉलोनियों को जोड़ता है रोड, बचाव में उतरने निगम अधिकारी बोले, ठेकेदार की रकम है बकाया, पैसे न होने के कारण काम नहीं कर रहा शुरू।

नगर निगम कमिश्नर के आदेश के बाद भी हार्डवेयर प्याली रोड को बनाने वाले ठेकेदार को आज तक ब्लैकलिस्ट नहीं किया गया। इंजीनियरिंग विभाग के उच्चाधिकारी अब उसके बचाव में उतर आए हैं। उनका कहना है कि ठेकेदार के बकाया पेमंेट का कुछ इश्यू है। जल्द सड़क बनाने का काम शुरू करा दिया जाएगा। पिछले एक साल से यह सड़क चर्चा का विषय बनी हुई है। एनआईटी और बड़खल क्षेत्र की कॉलोनियों के लाखों लोगों को परेशानी उठानी पड़ रही है। महज दो किलोमीटर की सड़क एक साल में भी नहीं बन पायी। सरकार इस सड़क पर छह करोड़ रुपए खर्च कर रही है।

इस रोड से 15 हजार से अधिक वाहनों का है आना जाना

बता दें कि हार्डवेयर-प्याली रोड एनआईटी और बड़खल विधानसभा की लाइफ लाइन कही जाती है। इस रोड से औसतन रोज 15 हजार वाहनों का अाना जाना होता है। यह रोड राष्ट्रीय राजमार्ग को जोड़ती है। तमाम आंदोलन के बाद नगर निगम ने 6 करोड़ रूपये की लागत से इसे बनाने का काम 23 अप्रैल 2021 में काम शुरू करवाया। इसे 22 जनवरी 2022 को खत्म हो जाना था। लेकिन ठेकेदार ने 9 महीने बात जाने के बाद भी सड़क नहीं बनाई। इस वक्त एक साइट की सड़क भी पूरी नहीं बनाई। प्याली चौक से हार्डवेयर की तरफ आने वाला रास्ता तालाब बन गया है।ठेकेदार की लापरवाही का दोनों विधानसभा की कॉलोनियों मंें रहने वाले लाखों लोगों को भुगतना पड़ रहा है। निगम कमिश्नर यशपाल यादव ने 9 मई को औचक निरीक्षण के बाद ठेकेदार को ब्लैकलिस्ट करने का आदेश दिया था लेकिन इंजीनियरिंग ब्रांच ने अभी तक ऐसा नहीं किया। निगम चीफ इंजीनियर रामजी लाल का कहना है कि अभी तक ठेकेदार को ब्लैकलिस्ट नहीं किया है। काम उसी ठेकेदार से कराने पर बात चल रही है। ठेकेदार का कुछ बकाया पैसा है। उसकी पेमेंट कराने के बाद काम शुरू करवा दिया जाएगा।

खबरें और भी हैं…

For breaking news and live news updates, like Smart Newsline on Facebook or follow us on Twitter & Whatsapp