चंडीगढ़ में बढ़ रहा अपराध: 1 जनवरी से 31 मार्च तक 179 चोरियां हुई; किडनैपिंग के 29 केस दर्ज

0
9

Smart Newsline (SN)

Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join)

  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • Crime On The Rise In Chandigarh, 179 Thefts Occurred From January To March; Snatching Also Increased

चंडीगढ़27 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

प्रतीकात्मक तस्वीर।

चंडीगढ़ में भले ही UT पुलिस अपने ‘वी केयर फॉर यू’ के स्लोगन का दम भरती हो, मगर वास्तविकता में शहर में अपराध काफी बढ़ गया है। शहर में शुरुआती 90 दिनों में ही काफी आपराधिक घटनाएं दर्ज की गई। आंकड़ों के मुताबिक 1 जनवरी से 31 मार्च तक चोरी के 179 केस आ चुके हैं। इनमें से 92 वाहन चोरी एवं 87 अन्य चोरियां के थे। वहीं किडनैपिंग के 29 केस शुरुआती 90 दिनों में आ चुके हैं। इनमें से 22 केस महिलाओं और लड़कियों से जुड़े थे। इसके अलावा धोखाधड़ी और जालसाज़ी के 72 केस आ चुके हैं।

शहर में स्नैचिंग के 39, एनडीपीएस के 36 केस, गैंबलिंग एक्ट के 46 तथा एक्साइज एक्ट के 34 केस आ चुके हैं। शहर में 63 सड़क हादसे हो चुके हैं। इनके अलावा विवाहिताओं के साथ क्रूरता के 29 मामले मार्च तक आ चुके हैं। गौरतलब है कि इसी महीने में शहर के सेक्टर 38 में दोहरा हत्याकांड और उसके तीन दिन बाद मनीमाजरा में युवक का कत्ल किया गया था।

पिछले वर्ष औसतन हर रोज दो चोरियां हुई

पिछले वर्ष 2021 में कोरोना काल में गंभीर अपराध काफी हुए। शहर में हत्या के 17 केस दर्ज हुए। वहीं हत्या के प्रयास के 23 मामले दर्ज किए गए थे। इसके अलावा महिलाओं के साथ दुष्कर्म के 74 केस दर्ज हुए। कुल 154 किडनैपिंग के केस दर्ज हुए जिनमें से महिलाओं और लड़कियों की किडनैपिंग के केस 119 थे।

वहीं दूसरी ओर शहर में सेंधमारी भी बढ़ी और ऐसे कुल 93 मामले आए। चोरी के कुल 757 केस आए। इनमें से 458 चोरियां वाहनों की हुई जबकि 299 बाकी चोरियां थी। मारपीट की घटनाएं भी बढ़ी और ऐसे 49 केस आईपीसी की धारा 323 और 333 के तहत दर्ज हुए। धोखाधड़ी और जालसाज़ी के 167 केस दर्ज हुए थे। ऑनलाइन फ्रॉड के मामलों में बढ़ोतरी के चलते धोखाधड़ी के मामले शहर में बढ़े हैं।

इन अपराधों में भी केस दर्ज हुए

यौन शौषण और अश्लील कृत्य करने के 38 मामले वर्ष 2021 में सामने आए। शहर में विवाहिताओं को प्रताड़ित करने के भी 95 केस सामने आए। स्नैचिंग के 121 केस वर्ष 2021 में दर्ज किए गए। गैंबलिंग एक्ट के तहत 162 मामले एवं एक्साइज एक्ट के तहत 158 केस सामने आए। एनडीपीएस एक्ट के तहत 89 केस दर्ज हुए थे। आईपीसी की अन्य धाराओं में 475 केस अलग से दर्ज हुए हैं। शहर में 208 सड़क दुर्घटनाएं भी दर्ज की गई।

स्नैचिंग की घटनाओं से बुजुर्ग खौफ में

शहर में स्नैचिंग की घटनाओं से बुजुर्गों में खौफ का माहौल बना हुआ है। ऐसे में चंडीगढ़ पुलिस का बीट बॉक्स भी बुजुर्गों को जागरुक और सावधान करता दिख रहा है। शहर के पार्कों में बुजुर्गों से बीट कर्मी मिल रहे हैं और उनकी समस्याओं को सुन रहे हैं। पुलिस की पेट्रोलिंग और नाकों के बावजूद शहर में स्नैचिंग की घटनाओं में कमी नहीं है। इन वारदातों का आम शिकार बुजुर्ग ही हो रहे हैं।

खबरें और भी हैं…

For breaking news and live news updates, like Smart Newsline on Facebook or follow us on Twitter & Whatsapp