Global Statistics

All countries
531,148,858
Confirmed
Updated on May 28, 2022 7:51 pm
All countries
487,586,731
Recovered
Updated on May 28, 2022 7:51 pm
All countries
6,310,145
Deaths
Updated on May 28, 2022 7:51 pm

Global Statistics

All countries
531,148,858
Confirmed
Updated on May 28, 2022 7:51 pm
All countries
487,586,731
Recovered
Updated on May 28, 2022 7:51 pm
All countries
6,310,145
Deaths
Updated on May 28, 2022 7:51 pm

पुलिस ने कहा-100 करोड़ की कोकीन पकड़ी: अब जांच में निकली एफिड्रिन, यह दवाएं बनाने में होती है इस्तेमाल, केस कमजोर होने से आरोपियों को मिली जमानत

Punjab

1 किलो अफीम सहित महिला तस्कर काबू: कपड़ों में छुपाकर लाई थी अफीम, पहले भी है नशा तस्करी का मामला दर्ज

Smart Newsline (SN) Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join) लुधियानाएक घंटा पहलेकॉपी लिंकअफीम सहित पकड़ी गई महिला के...

एडिवेटिड पुल पर 1 लाख की हुई लूट: पुलिस मामले को संदिग्ध मान रही, पीड़ित का कहना-तेजधार हथियार के बल पर हुई लूट

Smart Newsline (SN) Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join) लुधियाना39 मिनट पहलेकॉपी लिंकएडिवेटिड पुल पर हुई 1 लाख...

आज लुधियाना आएंगे राकेश टिकैत: 23 जत्थेबंदियों की बैठक में शिरकत करेंगे, किसान हितों पर हो सकते हैं बड़े फैसले

Smart Newsline (SN) Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join) लुधियाना14 घंटे पहलेकॉपी लिंकराष्ट्रीय महासचिव राकेश टिकैत।संयुक्त किसान मोर्चा...

Smart Newsline (SN)

Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join)

  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • Now Ephedrine Came Out In Investigation, It Is Used In Making Medicines, Accused Got Bail Due To Weak Case

चंडीगढ़18 घंटे पहलेलेखक: रवि अटवाल

  • कॉपी लिंक

पुलिस ने 13 मई को अशफाक रहमान नाम के शख्स को कोकीन की बड़ी खेप के साथ गिरफ्तार करने का दावा किया था।

6 महीने पहले पुलिस ने 100 करोड़ की कोकिन पकड़ने का दावा किया था। लेकिन पुलिस के दावे का सच सामने आ गया है। पुलिस ने जो कोकीन दिखाई थी, असल में वह एफिड्रिन नाम का एक पदार्थ है, जो दवाओं में इस्तेमाल होता है। ये पदार्थ नारकोटिक्स ड्रग्स के दायरे में भी नहीं आता। ये खुलासा सेंट्रल फॉरेंसिक साइंस लेबाेरेट्री (सीएफएसएल) की रिपोर्ट में हुआ है। इसका असर ये हुआ कि केस में शामिल दो आरोपियों को कोर्ट से जमानत मिल गई।

पुलिस ने 13 मई 2021 को अशफाक रहमान नाम के शख्स को कोकीन की बड़ी खेप के साथ गिरफ्तार करने का दावा किया था। निशानदेही पर दो अन्य आरोपियों विजय कुमार और जफर शरीफ को पुलिस ने चेन्नई से गिरफ्तार किया। तीनों पर पुलिस ने एनडीपीएस सेक्शन 21 के तहत केस दर्ज किया। वहीं, पकड़ी गई कोकीन को जांच के लिए सीएफएसएल भेज दिया था। लेकिन सीएफएसएल ने जो रिपोर्ट तैयार की, उसमें ये साफ हो गया है कि जिस ड्रग्स को कोकीन बताया जा रहा था, वह एफिड्रिन थी।

पुलिस ने सीएफएसएल रिपोर्ट के साथ कोर्ट में चार्जशीट फाइल कर दी। चार्जशीट पेश होने के बाद दो आरोपियों विजय कुमार और जफर शरीफ ने जमानत अर्जी दायर कर दी। इसी आधार पर मंगलवार को दोनों को कोर्ट से जमानत मिल गई। इन आरोपियों की तरफ से एडवोकेट संदीप गुज्जर, अमनदीप सिंह और अमरजीत सिंह ने जमानत याचिका दायर की थी। इन्होंने याचिका में कहा कि पुलिस ने केवल अपनी वाहवाही लूटने के लिए केस को इतना बड़ा बना दिया।

ड्रग्स के बदलने से पुलिस का पूरा केस ही पलट गया है। पहले पुलिस ने एनडीपीएस एक्ट की धारा 21 के तहत केस दर्ज किया था, लेकिन अब चार्जशीट में पुलिस ने आरोपियों पर धारा 21 हटा दी है और एनडीपीएस एक्ट की धारा 9ए और 25ए लगा दी है। सेक्शन 21 में कम से कम 10 साल और अधिकतम 20 साल की सजा का प्रावधान है। जबकि सेक्शन 25ए में कम से कम सजा का उल्लेख नहीं है, लेकिन अधिकतम 10 साल सजा हो सकती है।

पुलिस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर किया था खुलासा
13 मई 2021 को पुलिस ने 10 किलो कोकीन पकड़ने का दावा किया था, जिसकी वैल्यू 100 करोड़ रुपए बताई जा रही थी। एसएसपी कुलदीप सिंह चहल ने खुद प्रेस कॉन्फ्रेंस कर केस का खुलासा किया था। पुलिस के मुताबिक चेन्नई से ट्रेन के जरिए चंडीगढ़ की एक्सेल वर्ल्ड वाइड प्राइवेट लिमिटेड कोरियर कंपनी में यह खेप पहुंची थी। यहां से इसे ऑस्ट्रेलिया पहुंचाया जाना था, लेकिन इससे पहले ही पुलिस को इसकी सूचना मिल गई।
एसएचओ सेक्टर-31 नरेंद्र पटियाल की टीम ने रेड की और दो गत्ते के बॉक्स बरामद किए। इनमें क्रॉकरी थी, लेकिन उसके नीचे लकड़ी की ट्रे थी, जिसमें 14 पैकेट मिले। इन पैकेट में पुलिस को कोकीन बरामद हुई। पुलिस ने आरोपी अशफाक रहमान को गिरफ्तार कर लिया। उसके बयान पर पुलिस ने दो अन्य आरोपियों विजय कुमार और जफर शरीफ को चेन्नई से गिरफ्तार कर लिया।

कोकीन और एफिड्रिन में फर्क
कोकीन एक नारकोटिक्स ड्रग है, जिसका इस्तेमाल केवल नशे के लिए ही किया जाता है। जबकि एफिड्रिन को सीधे तौर पर ड्रग नहीं माना जाता, क्योंकि ये कंट्रोल्ड सबस्टांस है। इसका इस्तेमाल सरकार की देखरेख में होता है। एनसीबी के एक पूर्व अधिकारी के मुताबिक एफिड्रिन का इस्तेमाल दवाओं के निर्माण में किया जाता है। ये जिन फैक्ट्रियों में इस्तेमाल होता है, उन्हें रेगुलर इसके स्टॉक की जानकारी नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो को देनी पड़ती है। वहीं, एडवोकेट संदीप गुज्जर का कहना है कि पुलिस का दावा शुरुआत से ही शक में दायरे में था।

खबरें और भी हैं…

For breaking news and live news updates, like Smart Newsline on Facebook or follow us on Twitter & Whatsapp

Hot Topics - Haryana

रेवाड़ी में फंदे पर झूला पुलिस कर्मी: बस स्टैंड चौकी में बतौर मुंशी कार्यरत था; होटल के कमरे से बरामद हुई लाश

Smart Newsline (SN) Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join) रेवाड़ी10 घंटे पहलेहरियाणा के रेवाड़ी शहर में बस स्टैंड...

पलवल में पुलिस पर चलाई गोलियां: चांदहट और गदपुरी थानाक्षेत्र में दो वारदातें; 3 हत्यारोपियों को दबोचा, अन्य फरार

Smart Newsline (SN) Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join) पलवल9 घंटे पहलेकॉपी लिंकप्रतीकात्मक फोटो।हरियाणा के पलवल में बदमाशों...

पानीपत में जून में शुरू होगा ब्लड बैंक: मुख्यालय से नहीं मिला स्टाफ; अब सरकारी अस्पताल कर्मियों को दी जा रही ट्रेनिंग

Smart Newsline (SN) Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join) पानीपत8 घंटे पहलेकॉपी लिंकपानीपत ब्लड बैंक का उदघाटन करते...

Related Articles - Delhi NCR

धमकी की वाइस रिकार्डिंग कॉल:: खालिस्तानी आतंकी ने दी धमकी, हरियाणा में तीन जून को नहीं चलने दी जाएगी कोई ट्रेन

Smart Newsline (SN) Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join) फरीदाबाद3 घंटे पहलेकॉपी लिंकबोला, इस दिन हरियाणा में नहीं...