Global Statistics

All countries
260,858,963
Confirmed
Updated on November 27, 2021 1:56 am
All countries
233,896,726
Recovered
Updated on November 27, 2021 1:56 am
All countries
5,205,981
Deaths
Updated on November 27, 2021 1:56 am

Global Statistics

All countries
260,858,963
Confirmed
Updated on November 27, 2021 1:56 am
All countries
233,896,726
Recovered
Updated on November 27, 2021 1:56 am
All countries
5,205,981
Deaths
Updated on November 27, 2021 1:56 am

कैथल में धान की सैकड़ों एकड़ फसल खराब: BPL ब्लास्ट नामक बीमारी से सीवन ब्लॉक की 800 एकड़ से ज्यादा धान सड़ी; दवाइयां बेअसर, बीमा भी क्लेम नहीं होगा

Punjab

कब्जा: फर्जी दस्तावेज तैयार कर जमीन पर किया कब्जा, 5 पर केस दर्ज

Smart Newsline (SN) Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join) पटियालाएक घंटा पहलेकॉपी लिंकउसने अपनी उक्त जमीन में से...

विजिलेंस जांच शुरू: स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में पैसे की बर्बादी, चीफ विजिलेंस अफसर को कंप्लेंट, बयान दर्ज

Smart Newsline (SN) Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join) जालंधरएक दिन पहलेकॉपी लिंकनिगम के अधीन अवैध काॅलोनियां बनाने...

Smart Newsline (SN)

Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join)

करनाल12 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

खराब फसल को दिखाते हुए किसान।

हरियाणा के कैथल जिले के सीवन एरिया में किसानों की सैकड़ों एकड़ धान की फसल बीमारी से खराब हो गई है। इस बीमारी पर दवा भी बेअसर है। बीमा के क्लेम से भी इनकार कर दिया गया है। ऐसे में किसानों को काफी दिक्कतें पैदा हो गई हैं। उधर डीडीए डॉ. कर्मचंद के संज्ञान में मामला आने के बाद उन्होंने मौके पर आकर मुआयना करने का आश्वासन दिया और मुआवजे के लिए हर संभव प्रयास का भरोसा दिलाया।

किसान खराब फसल को हाथ में लिए हुए।

किसान खराब फसल को हाथ में लिए हुए।

किसानों का कहना है कि लगभग 800 एकड़ से ज्यादा धान की फसल में बीएलपी ब्लास्ट नामक बीमारी लग गई है। ऐसे में अन्नदाता जाएं तो कहां जाएं। वे सरकार से मुआवजे की गुहार लगा रहे हैं। क्योंकि बीमारी ने उनकी फसल को बर्बाद कर दिया है। किसानों ने बीमा पॉलिसी पर भी सवाल उठाते हुए कहा है कि पॉलिसी के अनुसार, मुआवजा तभी मिल सकता है, जब इलाके की 75% फसल खराब हो जाए।

ऐसे में किसान बीमा कंपनियों से मुआवजा भी नहीं ले सकते। किसानों के सामने रोजी-रोटी की समस्या खड़ी हो गई है। वे सरकार से एक ही बात कह रहे हैं कि सरकार उनकी सुन ले पुकार। किसान दोहरी मार के कारण कर्जे में डूब रहा है, क्योंकि हजारों रुपए बीमा कंपनी को प्रीमियम देने और फसल को बचाने के लिए हजारों रुपए खर्च करने के बावजूद निराशा ही हाथ लगी है।

खबरें और भी हैं…

For breaking news and live news updates, like Smart Newsline on Facebook or follow us on Twitter & Whatsapp

Hot Topics - Haryana

केस दर्ज: सीमेंट डीलर पर प्रवासी मजदूर को शराब पिला कुकर्म करने का आरोप

Smart Newsline (SN) Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join) पानीपत2 घंटे पहलेकॉपी लिंकइसराना में एक सीमेंट डीलर पर...

बैठक आयोजित: काेराेना की तीसरी लहर का खतरा अभी टला नहीं, इसलिए वैक्सीनेशन कैंपों में सहयाेग दें उद्यमी : डीसी

Smart Newsline (SN) Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join) पानीपतएक घंटा पहलेकॉपी लिंकउपायुक्त सुशील सारवन कोरोना वैक्सीन लगवाने...

सड़क हादसा: कार ने बाइक में मारी टक्कर, एक की माैत, दूसरा घायल, केस दर्ज

Smart Newsline (SN) Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join) पानीपत10 मिनट पहलेकॉपी लिंकगाेहाना राेड पर कार ने फैक्ट्री...

Related Articles - Delhi NCR

PM मोदी थोड़ी देर में जेवर एयरपोर्ट का शिलान्यास करेंगे: प्रधानमंत्री के पहुंचने से पहले 60 से ज्यादा किसानों को हिरासत में लिया

Smart Newsline (SN) Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join) नोएडाएक दिन पहलेप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी UP में ग्रेटर नोएडा...

हिंदूराव अस्पताल के डॉक्टर हड़ताल पर: आज से नर्सेज और पैरामेडिकल स्टॉफ भी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर

Smart Newsline (SN) Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join) नई दिल्लीएक दिन पहलेकॉपी लिंकवेतन, डीए सहित अन्य मांगों...