Global Statistics

All countries
531,379,228
Confirmed
Updated on May 29, 2022 4:54 am
All countries
487,825,286
Recovered
Updated on May 29, 2022 4:54 am
All countries
6,310,376
Deaths
Updated on May 29, 2022 4:54 am

Global Statistics

All countries
531,379,228
Confirmed
Updated on May 29, 2022 4:54 am
All countries
487,825,286
Recovered
Updated on May 29, 2022 4:54 am
All countries
6,310,376
Deaths
Updated on May 29, 2022 4:54 am

रक्षामंत्री ने मिसाइल बेस का किया उद्घाटन: एयरफोर्स को सौंपी जमीन से हवा में मार करने वाली मिसाइल, कहा- देश की सुरक्षा के लिहाज से यह ऐतिहासिक दिन

Punjab

जालंधर में कृष्ण नगर में घर में चोरी: चोरों ने आराम से बैठकर कोल्ड ड्रिंक भी पी, वारदात CCTV में कैद

Smart Newsline (SN) Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join) जालंधर40 मिनट पहलेकॉपी लिंकचोरों द्वारा घर में बिखेरा गया...

BSF अटारी को मिली जर्मन शेफर्ड ‘फ्रूटी’: देश की पहली प्रशिक्षित श्वान है; पाकिस्तान ड्रोन पर जवानों के साथ नजर रखेगी

Smart Newsline (SN) Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join) अमृतसरएक घंटा पहलेकॉपी लिंकप्रतीकात्मक तस्वीर।भारतीय सुरक्षा बल (BSF) के...

आईटी पार्क के नाम पर गबन का मामला: दो पंच-सरपंच अरेस्ट, खुलासा-बड़े कांग्रेसी नेता ने दबाव डाल करवा दिए चेक पर साइन

Smart Newsline (SN) Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join) पटियालाएक घंटा पहलेकॉपी लिंकराजपुरा आईटी पार्क प्रोजेक्ट मामले में...

Smart Newsline (SN)

Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join)

जैसलमेर24 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

जैसलमेर में रक्षामंत्री

केंद्रीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुवार शाम जैसलमेर में मीडियम रेंज सर्फेस टू एयर मिसाइल (MRSAM) बेस का उद्घाटन किया। इसके बाद रक्षा मंत्री ने जमीन से हवा में मार करने वाली मीडियम रेंज की इस मिसाइल को एयरफोर्स को सौंपा। रक्षामंत्री एयरफोर्स के विशेष विमान से गुरुवार को पाकिस्तान सीमा से सटे जैसलमेर पहुंचे। इससे पहले सुबह में इमरजेंसी एयर स्ट्रिप का उद्घाटन किया था।

मिसाइल बेस का उद्घाटन करते रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह।

मिसाइल बेस का उद्घाटन करते रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह।

पहली डिलीवरी योग्य फायरिंग यूनिट सौंपी
रक्षा मंत्री ने कहा कि भारत को इस मिसाइल से और मजबूती मिलेगी। देश की सुरक्षा बढ़ेगी। MRSAM मिसाइल को रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) ने उन्नत तकनीक के साथ तैयार किया है। इस मिसाइल को भारतीय वायु सेना के जंगी बेड़े में शामिल किया गया है। इसके बाद वायुसेना की ताकत में और इजाफा होगा। इस दौरान रक्षामंत्री ने एयरफोर्स के जवानों और अधिकारियों की हौसला अफजाई की। रक्षामंत्री के साथ चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ विपिन रावत, वायुसेना के एयर चीफ मार्शल आर के एस भदौरिया, डीआरडीओ चीफ डॉ. जी. सतीश रेड्डी, केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत भी मौजूद रहे।
रक्षा अनुसंधान एवं विकास विभाग के सचिव और डीआरडीओ के अध्यक्ष डॉ जी सतीश रेड्डी ने राजनाथ सिंह की उपस्थिति में वायु सेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल आर के एस भदौरिया को पहली डिलीवरी योग्य फायरिंग यूनिट सौंपी। आयोजन के दौरान, डीआरडीओ और आईएआई के अधिकारियों ने एमआरएसएएम प्रणाली की क्षमता का प्रदर्शन किया।

पहली डिलीवरी योग्य फायरिंग यूनिट सौंपी।

पहली डिलीवरी योग्य फायरिंग यूनिट सौंपी।

पीएम नरेंद्र मोदी का आत्मनिर्भर भारत का सपना साकार

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने डीआरडीओ, आईएआई, विभिन्न निरीक्षण एजेंसियों, सार्वजनिक और निजी उद्योग भागीदारों के संयुक्त प्रयासों की सराहना की। इसे उन्होंने दुनिया की सर्वश्रेष्ठ अत्याधुनिक मिसाइल प्रणालियों में से एक करार दिया। भारतीय वायुसेना को एमआरएसएएम प्रणाली सौंपने के साथ, हमने अपने प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की कल्पना के अनुसार ‘आत्मनिर्भर भारत’ हासिल करने की दिशा में एक बड़ी छलांग लगाई है। यह वायु-रक्षा-प्रणाली में गेम चेंजर साबित होगा।

मेक इन इंडिया, मेक फॉर द वर्ल्ड
राजनाथ सिंह ने ‘मेक इन इंडिया, मेक फॉर द वर्ल्ड’ पर ध्यान केंद्रित करते हुए स्वदेशी अनुसंधान, डिजाइन और विकास के माध्यम से तकनीकी आधार को मजबूत करने की सरकार की प्रतिबद्धता की पुष्टि की। उन्होंने प्रौद्योगिकी भागीदारों और मित्र देशों के बीच घनिष्ठ सहयोग ने इस दृष्टि को साकार करने की दिशा में तेजी से प्रगति की है। एमआरएसएएम का विकास इस तरह के सहयोगात्मक प्रयास का एक बड़ा उदाहरण है।

संबोधित करते रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह

संबोधित करते रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह

भारत और इज़राइल के बीच घनिष्ठ साझेदारी का एक चमकदार उदाहरण
रक्षा मंत्री ने एमआरएसएएम प्रणाली के विकास को भारत और इज़राइल के बीच घनिष्ठ साझेदारी का एक चमकदार उदाहरण बताया। कहा- भारतीय वायुसेना को सिस्टम सौंपने से यह दशकों पुरानी दोस्ती को और अधिक ऊंचाइयों पर ले गई है। उन्होंने कहा कि इसने भारत और इज़राइल के रक्षा औद्योगिक आधार को मजबूत करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। इस कार्यक्रम के विकास में नई परीक्षण सुविधाओं और बुनियादी ढांचे के निर्माण पर, राजनाथ सिंह ने कहा कि यह भविष्य में दोनों देशों के लिए गुणवत्तापूर्ण उत्पादों के उत्पादन में सहायक होगा। उन्होंने इस कार्यक्रम के लिए निर्मित की जा रही उप-प्रणालियों को भारतीय सार्वजनिक और निजी क्षेत्र की कंपनियों के बीच तालमेल का एक बड़ा उदाहरण बताया।

निरीक्षण करते रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह व अन्य अधिकारी।

निरीक्षण करते रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह व अन्य अधिकारी।

खबरें और भी हैं…

For breaking news and live news updates, like Smart Newsline on Facebook or follow us on Twitter & Whatsapp

Hot Topics - Haryana

इंग्लैंड भेजने के नाम पर हड़पे 18 लाख: विदेश जाने की चाहत में दंपति ने बेची थी मां की जमीन

Smart Newsline (SN) Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join) Hindi NewsLocalHaryanaAmbala18 Lakhs Grabbed In The Name Of Sending...

खाली होगी 50 साल पुरानी शुगर मिल: 31 मई को नेशनल फेडरेशन HSVP को सौंप देगी जमीन; शीरा-चीनी बेची जा रही

Smart Newsline (SN) Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join) पानीपत2 घंटे पहलेकॉपी लिंकहरियाणा के पानीपत जिले के गांव...

AAP के बाद BJP ने बनवाया गाना: दलेर मेहंदी ने CM मनोहर लाल के लिए गाया गाना; 30 मई को लॉन्चिंग

Smart Newsline (SN) Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join) चंडीगढ़19 मिनट पहलेकॉपी लिंकसीएम मनोहर लालहरियाणा में सत्तारुढ़ भाजपा...

Related Articles - Delhi NCR

धमकी की वाइस रिकार्डिंग कॉल:: खालिस्तानी आतंकी ने दी धमकी, हरियाणा में तीन जून को नहीं चलने दी जाएगी कोई ट्रेन

Smart Newsline (SN) Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join) फरीदाबाद3 घंटे पहलेकॉपी लिंकबोला, इस दिन हरियाणा में नहीं...