Global Statistics

All countries
231,349,808
Confirmed
Updated on September 24, 2021 12:06 am
All countries
206,295,715
Recovered
Updated on September 24, 2021 12:06 am
All countries
4,741,566
Deaths
Updated on September 24, 2021 12:06 am

Global Statistics

All countries
231,349,808
Confirmed
Updated on September 24, 2021 12:06 am
All countries
206,295,715
Recovered
Updated on September 24, 2021 12:06 am
All countries
4,741,566
Deaths
Updated on September 24, 2021 12:06 am

ब्रेक के बाद मानसून फिर एक्टिव: पंजाब-चंडीगढ़ व हिमाचल में अभी तक औसत से कम बारिश; हरियाणा में औसत से 14% अधिक बरसे बादल, भाखड़ा समेत दो बड़े बांधों में जलस्तर स्थिर

Punjab

गिरफ्तार: नए युवकों को लालच दे साथ मिला करते थे वारदातें, वाहनों को मॉडिफाई कर बेच देते थे आरोपी

Smart Newsline (SN) Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join) लुधियानाएक दिन पहलेकॉपी लिंकफाइल फोटोदो आरोपी गिरफ्तार, आरोपियों से...

Smart Newsline (SN)

Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join)

  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Monsoon Forecast: Below Average Rainfall In Punjab Chandigarh Himachal; In Haryana 14% More Than The Average Rain, Water Level Stable In Two Big Dams Including Bhakra

चंडीगढ़/पानीपत/शिमलाएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

हरियाणा, पंजाब, चंडीगढ़ और हिमाचल प्रदेश में मानसून सीजन इस बार थोड़ा असंतुलित रहा है। उत्तर भारत के इन चार राज्यों में मात्र हरियाणा में ही औसत से अधिक बारिश हुई है। हालांकि ब्रेक के बाद मानसून फिर एक्टिव हो रहा है। गुरुवार को तीसरे दिन लगातार हरियाणा के कई जिलों में बारिश हुई।

बुधवार को पानीपत समेत कई जिलों में दिनभर में करीब 5 घंटे बारिश तो कहीं बूंदाबांदी जारी रही। गुरुवार सुबह करीब 10 बजे से आधे घंटे तक अच्छी बारिश हुई। बुधवार को 18MM बारिश दर्ज की गई। तापमान 29 डिग्री सेल्सियस पर स्थिर रहा। वहीं पंजाब के भी कुछ इलाकों में छिटपुुट बारिश हुई है। चंडीगढ़ में भी सुबह हल्की बारिश हुई और उसके बाद मौसम साफ है। हिमाचल प्रदेश के अधिकतर जिलों में मौसम खराब है और बादल छाए हुए हैं।

हरियाणा में मानसून सीजन में अब तक कुल 412MM बारिश हुई। यह सामान्य से 14% अधिक है। पंजाब में 1 सितंबर तक 296MM बारिश हुई है, जो सामान्य 390MM से 24% कम है। वहीं, चंडीगढ़ में सीजन में 427MM बारिश हुई है जो सामान्य 707MM से 40% कम है। हिमाचल प्रदेश में अभी तक 524MM बारिश हुई है जो सामान्य 649MM से 20% कम है।

5 सिंतबर तक बारिश के हैं आसार
हरियाणा में 13 जून को मानसून सक्रिया हुआ था। हवाओं का रुख बदलने के कारण मानसूनी बादल उत्तर प्रदेश और हिमाचल की तरफ मुड़ गए। हरियाणा कृषि एवं मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार 5 सितंबर तक अच्छी बारिश के आसार बने हुए हैं। वहीं, पानीपत समेत कुछ जिलों में मानसून एक महीने बाद 13 जुलाई को सक्रिय हुआ था। पानीपत में अब तक सामान्य से 58% अधिक 480MM बारिश दर्ज की जा चुकी है। मौसम विभाग के मुताबिक 5 सितंबर तक चंडीगढ़ और उसके आसपास पंजाब के इलाकों में बारिश के आसार बने हुए हैं। वहीं, हिमाचल में अभी तक मानसून में सामान्य बारिश हुई है। हिमचाल में अभी 20 सितंबर तक मॉनसून सक्रिय रहेगा। इस महीने की 7 तारीख के बाद मौसम परिवर्तन का अनुमान है।

बीच में लगा था ब्रेक, हरियाणा में असंतुलित सीजन
हरियाणा और पंजाब के ज्यादातर इलाकों में अगस्त के पहले पखवाड़े में मानसून पर ब्रेक लग गया था। यहां आधा सावन सूखा ही निकला। दरअसल मानसून की टर्फ रेखा का पश्चिमी छोर 10 अगस्त के बाद हिमालय की तलहटी की ओर बढ़ने के कारण मानसूनी हवाएं कमजोर हो गईं थीं। इससे खासकर हरियाणा में मानसून ब्रेक की स्थिति पैदा हो गई थी। हरियाणा में इस बार मानसून सीजन पूरी तरह से असंतुलित रहा है। कई जिलों में औसत से दोगुनी तो कई जिलों में औसत से आधी बारिश हुई है।

हिमाचल में 2009 के बाद अगस्त में कम बारिश
हिमाचल प्रदेश में अगस्त महीने में 44 फीसदी कम बारिश हुई। 2009 के बाद प्रदेश में पहली बार अगस्त में कम बारिश दर्ज की गई है। 2009 में हिमाचल में अगस्त में 126.7MM बारिश हुई थी और 2021 में 146.5MM बारिश हुई। इस सीजन में अगस्त महीने में 29 दिन बारिश हुई। 13 दिन राज्य में भारी बारिश रिकॉर्ड की गई। मंडी जिला को छोड़कर राज्य में कहीं भी सामान्य बारिश नहीं हुई।

भाखड़ा-पौंग में जलस्तर स्थिर, पंडोह डैम में गिरा
हिमाचल प्रदेश के मुख्य बांध पोंग डैम का जलस्तर 15 दिन पहले 426 फीट था और अभी भी यहीं स्थिर है। भाखड़ा डैम का जलस्तर भी 492.92 फीट बना हुआ है। पंडोह डैम का जलस्तर कम हुआ है। 15 दिन पहले पंडोह में जलस्तर 892. 26 फीट था और अब 889. 42 फीट है। वहीं, सतलुज नदी पर बने कड़छम बांध में भी जलस्तर में कमी आई है, यहां 15 दिन पहले 1808.8 फीट पानी था। अब 1806.78 फीट पानी है।

15 तक बारिश हुई तो बांधों में बढ़ेगा जलस्तर
हिमाचल प्रदेश मत्स्य विभाग का दावा है कि यदि मानसूनी बारिश 15 सितंबर तक जारी रही तो भाखड़ा के साथ पौंग और पंडोह डैम में जलस्तर सामान्य लेवल के आसपास पहुंच जाएगा। विभाग के अनुसार बेशक इस समय सतलुज, ब्यास और रावी में इनफ्लो कम या ज्यादा हो रहा है पर अभी मानसून का कुछ समय बाकी है।

खबरें और भी हैं…

For breaking news and live news updates, like Smart Newsline on Facebook or follow us on Twitter & Whatsapp

Hot Topics - Haryana

ज्वेलर की दुकान में हुई चोरी का मामला: पुलिस ने 1 लाख 90 हजार बरामद किए

Smart Newsline (SN) Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join) बरवाला5 मिनट पहलेकॉपी लिंकशहर के दौलतपुर चौक पर 14-15...

बुआना लाखू का मामला: छत की कड़ी टूटी, मिट्‌टी में दबा सामान, विधवा महिला ने प्रशासन से मांगी मदद

Smart Newsline (SN) Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join) इसराना3 मिनट पहलेकॉपी लिंकगुरुवार को सुबह से रुक-रुक कर...

Related Articles - Delhi NCR

स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा: ऑक्सीजन ऑडिट कमेटी पर दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले का स्वागत, सच की हुई जीत

Smart Newsline (SN) Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join) नई दिल्लीएक दिन पहलेकॉपी लिंकऑक्सीजन ऑडिट कमेटी पर दिल्ली...

राहत: दिल्ली सरकार के बाद ईस्ट एमसीडी ने दिए स्पॉ सेंटरों के लिए जारी किए दिशा निर्देश

Smart Newsline (SN) Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join) नई दिल्लीएक दिन पहलेकॉपी लिंकस्पॉ में आने वाले ग्राहकों...