Global Statistics

All countries
331,852,703
Confirmed
Updated on January 18, 2022 1:22 pm
All countries
267,094,347
Recovered
Updated on January 18, 2022 1:22 pm
All countries
5,565,821
Deaths
Updated on January 18, 2022 1:22 pm

Global Statistics

All countries
331,852,703
Confirmed
Updated on January 18, 2022 1:22 pm
All countries
267,094,347
Recovered
Updated on January 18, 2022 1:22 pm
All countries
5,565,821
Deaths
Updated on January 18, 2022 1:22 pm

इस बार छपार मेले पर नहीं होंगी राजनीतिक रैलियां: किसानों की नसीहत पर अकाली दल और AAP ने लिया फैसला, कांग्रेस ने अभी नहीं दी कोई प्रतिक्रिया; मालवा की कई सीटों पर होगा असर

Punjab

पंजाब कांग्रेस में कलह: मंत्री राणा गुरजीत को पार्टी से बाहर निकालने की मांग; बेटे के निर्दलीय लड़ने के ऐलान से भड़के कांग्रेसी

Smart Newsline (SN) Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join) चंडीगढ़7 मिनट पहलेकॉपी लिंकमंत्री राणा गुरजीतपंजाब कांग्रेस में नई...

भगवंत मान के CM कैंडिडेट बनने पर AAP का वीडियो: विद्या बालन को CM चेयर बताकर दिखाया सिद्धू-चन्नी का झगड़ा, यूजर्स ने ट्रोल किया

Smart Newsline (SN) Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join) अमृतसर22 मिनट पहलेकॉपी लिंकवीडियो में विद्या बालन को सीएम...

चार दिन बाद भी मजीठिया पर कार्रवाई नहीं: नियमों के उल्लंघन पर हुआ था केस, नोटिस का न जवाब दिया और न थाने में...

Smart Newsline (SN) Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join) अमृतसर30 मिनट पहलेकॉपी लिंकअमृतसर पहुंचते ही मजीठिया भूल गए...

लुधियाना में धू-धू कर जली सड़क पर खड़ी कार: स्टोर से दवा लेकर गाड़ी में बैठा चालक तो लोगों ने धुआं देख हल्ला मचाया,...

Smart Newsline (SN) Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join) लुधियाना8 मिनट पहलेशहर के किचलू नगर में सड़क पर...

मान के CM चेहरा बनने की इनसाइड स्टोरी: दिग्गज हस्ती नहीं आई; पंजाब में बाहरी नेता कबूल नहीं; केजरीवाल ने जनता की राय से...

Smart Newsline (SN) Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join) चंडीगढ़2 घंटे पहलेलेखक: मनीष शर्माकॉपी लिंक'मान न मान, केजरीवाल...

Smart Newsline (SN)

Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join)

लुधियाना।24 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

प्रत्येक वर्ष 20 सितंबर को लुधियाना के गांव छपार में मेला लगता है। इसी दिन सभी राजनीतिक पार्टियों की तरफ से सभाएं की जाती हैं। फाइल फोटो

पंजाब विधानसभा चुनाव 2022 के लिए काफी अहम माने जाते छपार मेले में इस बार राजनीतिक रैलियां नहीं हो रहीं। पंजाब के किसान संगठनों की तरफ से सुनाए गए फैसले के बाद राजनीतिक पार्टियों ने मेले में रैलियां न करने का फैसला लिया गया है।

चुनाव से पहले यह फैसला काफी अहम है। शिरोमणी अकाली दल बादल की तरफ से इसका ऐलान कर दिया गया है। जबकि आम आदमी पार्टी ने भी यह रैलियां नहीं करने का फैसला लिया है, हालांकि इस आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है। वहीं कांग्रेस की तरफ से भी इस पर अभी कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। ध्यान रहे कि इस मेले में पूरे मालवा से लोग आते हैं और यहां राजनीतिक रैलियां न होने का प्रभाव भी केवल लुधियाना की 14 विधानसभा सीटों पर नहीं, बल्कि मालवा की कई सीटों पर पड़ेगा।

शिरोमणी अकाली दल के विधायक मनप्रीत सिंह अयाली।

शिरोमणी अकाली दल के विधायक मनप्रीत सिंह अयाली।

हलका मुल्लांपुर दाखा से विधायक और शिअद नेता मनप्रीत सिंह अयाली ने कहा है कि उनकी तरफ से मेले में रैलियां नहीं करने का फैसला लिया गया है। हालांकि इसके लिए उनकी तरफ से तैयारियां की जा रही थीं। कई जगहों पर मीटिंग भी चुकी थी। दूसरी तरफ आम आदमी पार्टी (आप) के नेता और हल्का मुल्लांपुर प्रभारी अमन मोही का कहना है कि हमने फैसला तो ले लिया है कि मेले में सभाओं का आयोजन नहीं किया जाएगा। मगर इसकी अधिकारिक पुष्टि पार्टी की सीनियर लीडरशिप की तरफ से ही की जानी है।

आम आदमी पार्टी नेता अमनदीप मोही।

आम आदमी पार्टी नेता अमनदीप मोही।

बता दें कि प्रत्येक वर्ष 20 सितंबर को लुधियाना के गांव छपार में मेला लगता है। इसी दिन सभी राजनीतिक पार्टियों की तरफ से सभाएं की जाती हैं और वह अपनी बात लोगों के बीच रखते हैं। चुनाव में मात्र 6 माह का समय ही बचा है। ऐसे में राजनीतिक पार्टियों के लिए इस बार यह मेला काफी अहमियत रखता था। क्योंकि इसका प्रभाव केवल लुधियाना की 14 विधानसभा सीटों पर ही नहीं, बल्कि मालवा की कई सीटों पर पड़ेगा। पिछले साल भी यह रैलियां कोरोना वायरस की वजह से नहीं हो पाई थीं।

किसान संगठनों ने की है राजनीतिक रैलियां न करने की अपील
दिल्ली में चल रहे संयुक्त किसान मोर्चा के संघर्ष के बीच रविवार को 32 किसान संगठनों ने सभी राजनीतिक पार्टियों के साथ बैठक की थी। इस दौरान किसानों ने सभी दलों के नुमाइंदों को नसीहत दी थी कि वह चुनाव आचार संहिता लगने तक किसी भी तरह की राजनीतिक हलचल न करें। इससे यहां कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे संघर्ष को नुकसान होगा और ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों की एकजुटता भी भंग होगी। इसके बाद लगभग सभी पार्टियों ने ही अपनी राजनीतिक सभाए बंद कर दी हैं और नेता अन्य तरीकों से लोगों के बीच जा रहे हैं।

खबरें और भी हैं…

For breaking news and live news updates, like Smart Newsline on Facebook or follow us on Twitter & Whatsapp

Hot Topics - Haryana

पानीपत में 22 लाख की कबूतरबाजी: दो ठगों ने जमींदार को अमेरिका में नौकरी लगवाने के बहाने हड़पे रुपए, जान से मारने की दी...

Smart Newsline (SN) Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join) पानीपतएक मिनट पहलेकॉपी लिंकपीड़ित जमींदार जितेंद्र।हरियाणा के पानीपत जिले...

CAG में तैनात क्लर्क को दहेज में चाहिए बाइक: शादी के तीन महीने बाद ही मारपीट करके पत्नी को घर से निकाला

Smart Newsline (SN) Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join) हिसार42 मिनट पहलेकॉपी लिंकहरियाणा के हिसार में विवाहिता के...

Related Articles - Delhi NCR

पलवल में खातों से निकाले डेढ़ लाख से ज्यादा: क्रेडिट कार्ड से धोखाधड़ी कर उड़ाए 1.21 लाख, दूसरे केस में 36 हजार रुपए साफ...

Smart Newsline (SN) Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join) पलवल28 मिनट पहलेकॉपी लिंकप्रतीकात्मक फोटो।हरियाणा के पलवल जिले में...

पानीपत में पॉजीटिव और रिकवरी रेट दोनों ने पकड़ी रफ्तार: हर घंटे कोरोना के 11 नए केस, हर घंटे में पांच लोगों ने दी...

Smart Newsline (SN) Get Latest News from Smart Newsline on Whatsapp (Click to Join) पानीपत14 मिनट पहलेकॉपी लिंकहरियाणा के पानीपत जिले में अब...