Saturday, June 19, 2021

2 charioteers running 11 oxygen special trains; When the corona was found, the value of the breath was known, as soon as he came, he came forward to bring oxygen. | लोको पायलट संक्रमित हुए तो ऑक्सीजन की अहमियत समझी, आराम करने की बजाय ऑक्सीजन ट्रेन दौड़ाने की ठानी

Must Read

Declaration of Juneteenth holiday sparks scramble in states | World News

For breaking news and live news updates, Join us on Whatsapp Congress and President Joe Biden acted with unusual...

With the challenges faced during the pandemic, these mothers found a new way; Changed home, city and job to fulfill dreams | महामारी के...

For breaking news and live news updates, Join us on Whatsapp InternationalWith The Challenges Faced During The Pandemic, These...

For breaking news and live news updates, Join us on Whatsapp

  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • 2 Charioteers Running 11 Oxygen Special Trains; When The Corona Was Found, The Value Of The Breath Was Known, As Soon As He Came, He Came Forward To Bring Oxygen.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें Smart Newsline ऐप

कोरोना से लोगों की सांसें पटरी से नहीं उतरें इसलिए रेलवे ऑक्सीजन पहुंचाने का काम कर रही है। जयपुर के लोको पायलट सुरेंद्र यादव और राजेंद्र प्रसाद मीना भी इसी मुहिम से जुड़े हुए हैं। खास बात यह है कि दोनों को कोरोना होने के बाद सांस लेने में तकलीफ हुई तो उन्हें ऑक्सीजन की अहमियत का अंदाजा लगा। फिर संक्रमण मुक्त होते ही दोनों ने ऑक्सीजन स्पेशल ट्रेन चलाने का फैसला लिया।

उत्तर पश्चिम रेलवे ने ऑक्सीजन सप्लाई के लिए जिन 24 ट्रेनों का संचालन किया, उनमें से 11 इन दोनों लोको पायलट ने ही चलाईं। रेलवे की तरफ से पालनपुर-अजमेर-फुलेरा-रींगस- रेवाड़ी (649 किलोमीटर) से होते हुए दिल्ली और उत्तर प्रदेश के लिए ऑक्सीजन स्पेशल ट्रेनों से टैंकर पहुंचाए जा चुके हैं।

ऑक्सीजन स्पेशल ट्रेनों के संचालन में लोको पायलट सुरेंद्र यादव और राजेंद्र प्रसाद मीना ने अहम भूमिका निभाई। दोनों बताते हैं कि वे 20 अप्रैल को कोरोना संक्रमित हो गए थे। सांस लेने में तकलीफ होने पर परिजन ने उन्हें तुरंत अस्पताल में भर्ती कराया। सांस उखड़ने लगीं तो उन्हें ऑक्सीजन की कीमत पता चली। फिर दोनों ने कोरोना को हराते हुए 15 दिन बाद फील्ड पर वापसी की।

ड्यूटी जॉइन करते ही उन्होंने ऑक्सीजन स्पेशल ट्रेन दौड़ाने की इच्छा जताई। आराम करने की डॉक्टरी सलाह को दरकिनार करते हुए दोनों ने मारवाड़ जंक्शन से पालनपुर के लिए ऑक्सीजन स्पेशल ट्रेन में ड्यूटी लगवाई। सुरेंद्र यादव ने 5 ऑक्सीजन स्पेशल और राजेंद्र प्रसाद मीना ने 6 ट्रेनों को चलाया। ये काम कर दोनों खुद को भाग्यशाली और गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं।

यादव ने ऑक्सीजन स्पेशल ट्रेन मारवाड़ से पालनपुर (217 किमी) सवा चार घंटे में पहुंचा दी। अमूमन इस रूट पर सामान्य दिनों में 8.30 घंटे का वक्त लगता है। वहीं, मीना भी इसी रूट पर दूसरी ऑक्सीजन स्पेशल लेकर गए। दोनों ने Newsline से बातचीत में बताया कि महामारी के दौरान उन्हें महसूस हुआ कि देशभर में ऑक्सीजन की भारी किल्लत है।

खबरें और भी हैं…

For breaking news and live news updates, like us on Facebook or Whatsapp or follow us on Twitter and Linkedin. Read more on Latest India News on Smart Newsline



Latest News

Neena Gupta on why she did not marry someone while pregnant with Masaba: ‘I was still attached to Vivian’ | Bollywood

For breaking news and live news updates, Join us on Whatsapp Neena Gupta opened up about her decision to not enter into a marriage...

Salman Khan Ajay Devgn | Ajay Devgn Digital Debut and Salman Khan Remake Films and More Latest Udpate | वेब सीरीज ‘रूद्र’ के लिए...

For breaking news and live news updates, Join us on Whatsapp जुलाई में अजय देवगन अपने डिजिटल डेब्यू शो 'रूद्र : द एज ऑफ...

Neena Gupta regrets not asking her father about his second marriage: ‘Now there’s nobody to tell me’ | Bollywood

For breaking news and live news updates, Join us on Whatsapp Neena Gupta has said that she was surprised by how little she knew...

Priyanka Chopra reveals her ‘summer tattoo’, dedicates new ink to her pet dogs. See pic | Bollywood

For breaking news and live news updates, Join us on Whatsapp Priyanka Chopra Jonas has got a new tattoo and she revealed it on...

More Articles Like This