Tuesday, May 11, 2021

You will not believe until you treat the wicked, you have to bear the penalty for following Rajdharma. | चौथी पारी में CM की एंग्री यंग मैन की भूमिका क्यों? शिवराज बोले- दुष्टों के साथ दुष्टों सा व्यवहार न करो तब तक नहीं मानेंगे

Must Read

China now has 1.41 billion people; growth in 10 years only 72 million

For breaking news and live news updates, Join us on Whatsapp China’s population grew to 1.412 billion until November,...

China reports population growth closer to zero in 2020

For breaking news and live news updates, Join us on Whatsapp The population rose by 72 million over the...

  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • You Will Not Believe Until You Treat The Wicked, You Have To Bear The Penalty For Following Rajdharma.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें Smart Newsline ऐप

शिवराज सिंह चौहान आज बतौर मुख्यमंत्री अपनी चौथी पारी का पहला साल पूरा कर रहे हैं, इस बार CM का अंदाज थोड़ा अलग है।

सरकार को आज एक साल पूरा हुआ। 23 मार्च 2020 को कांग्रेस को सत्ता से बेदखल कर शिवराज सिंह ने मुख्यमंत्री पद की अपनी चौथी पारी शुरू की थी। तीन पारियों में सरल और सौम्य नजर आने वाले ‘मामा’ इस बार कुछ ऐसे बयान दे रहे हैं- माफियाओं को गाड़ दूंगा, टांग दूंगा…। आखिर हालात इतने क्या बेकाबू हो गए कि उन्हें यह अंदाज अपनाना पड़ा? इन्हीं मसलों पर CM से उपमिता वाजपेयी की बातचीत…

सवाल : चौथी पारी में शिवराज एंग्री यंग मैन की भूमिका में क्यों हैं?

शिवराज अब एंग्री यंग मैन बन गए हैं? बयान दे रहे हैं, गाड़ दूंगा, टांग दूंगा… इतना गुस्सा क्यों?
तकलीफ होती है यह जानकर कि कुछ प्रभावी लोगों ने आम लोगों का हक छीन लिया। FIR और शिकायत करने पर भी कुछ नहीं होता। मैंने तय कर लिया कि उन्हें छोड़ना नहीं है। चिटफंड कंपनी वाले जिंदगीभर की कमाई खा गए हैं। उनकी संपत्ति बेचकर राजसात करना है। माफिया को खोदकर गाड़ने का यही मतलब है।
यानी, ‘मामा’ बदल गए हैं?
दुष्टों के साथ जब तक दुष्टों सा व्यवहार न करो, तब तक सज्जनता से नहीं मानेंगे। इसलिए राजधर्म का पालन करने के लिए दंड उठाना पड़ता है।
कोरोना टेस्टिंग कम हुई है, आंकड़े भी गड़बड़ हैं?
आंकड़ों की गड़बड़ जानबूझकर नहीं है। बीच में सिर्फ 150 केस आ रहे थे तो लगा संक्रमण कंट्रोल में है। अनावश्यक टेस्टिंग की जरूरत नहीं लगी। अब कोरोना बढ़ा तो टेस्टिंग फिर 30 हजार पर पहुंच गई।
क्या राजनीतिक कार्यक्रम, मेलों से केस बढ़े हैं?
10 महीने लोग अंदर बैठे कुंठा के शिकार हो रहे थे, कारोबार बर्बाद हो रहे थे। इसलिए लगा कि अब कोरोना कंट्रोल में है तो खुली हवा में सांस लेने दें। तब ये नहीं पता था कि स्थिति दोबारा ऐसी स्थिति हो जाएगी।
स्कूल और कॉलेज को लेकर क्या प्लान है?
एक अप्रैल से खोलने वाले थे। लेकिन, ऐसी ही परिस्थिति रही तो नहीं खोलेंगे। फैसला बाद में लेंगे।
मोदी गुजरात CM रहे, फिर केंद्र में गए, आप दोबारा CM बनना चाहेंगे या फिर केंद्र में जाना?
मैं ऐसा कुछ नहीं सोचता। अध्यात्म पर भरोसा रखता हूं। मैं कर्म करना चाहता हूं वो भी फल की इच्छा किए बिना। लेकिन आगे क्या करूंगा, ये तो पार्टी तय करेगी।
बंगाल चुनाव में कैलाश विजयवर्गीय की अहम भूमिका है, क्या वे मप्र महत्वपूर्ण रोल में लौटेंगे?

कैलाश जी बहुत मेहनत करे रहे हैं। वो मेरी टीम के ही साथी हैं। हमने साथ काम किया है, मेरे परम मित्र हैं।
दमोह पर फैसला?
राहुल लोधी तय प्रत्याशी हैंं। वो विधायकी बीच में छोड़कर आए हैं। हमारी जिम्मेदारी है उन्हें मौका दें।
आपकी जिंदगी में सबसे ज्यादा अहम क्या है?
जनता की सेवा सर्वोपरि है पर सोचा नहीं था कि चुनाव लडूंगा, मुख्यमंत्री बनूंगा। परिवार का ध्यान रखना मेरी ड्यूटी। मैं बेटी चाहता था, लेकिन मेरे दो बेटे हैं। कार्तिकेय का जन्म हुआ तो मैंने गोद में उसे लेकर गायत्री मंत्र कहा था। कोशिश करता हूं सुबह की चाय बच्चों के साथ हो। मैंने हमेशा पत्नी की गरिमा का सम्मान किया। उन्हें हर जगह साथ ले जाता था। लोगों ने तो इस पर भी सवाल उठाए और आलोचना की।

हिंदुत्व

आपकी छवि हिंदुत्व की हो गई है?
हमारी सनातन परंपराएं हैं। हिंदुत्व भेद करना नहीं सिखाता वरना तो ये परंपरा आ गई थी कि जो हिंदुत्व को जितनी गाली देगा, उतना सेक्युलर कहलाएगा। मुझे हिंदुत्व का पालन करने में कोई संकोच नहीं, लेकिन सब अपने ही हैं।

सिंधिया

सिंधिया के मंत्री आपकी सरकार में हैं क्या फैसले लेने में फर्क महसूस होता है?
मुझे एक दिन भी नहीं लगा कि कोई बाहर से आए लोग हैं। सिंधिया जी बढ़िया व्यक्ति हैं। उनके जो साथी आए थे वो भी दूध में शक्कर सा घुल गए। एक दिन भी मैं असहज नहीं हुआ। जैसे पहले काम करता था वैसे ही कर रहा हूं।

शराबबंदी

शराबबंदी पर उमा अभियान चला रही हैं?
मुझसे कोई पूछे तो मैं एक मिनट भी शराब नहीं चलने दूं, लेकिन शराबबंदी से शराब बंद नहीं होती। अगर शराब बंदी से बंद हो जाती तो 10-12 हजार करोड़ का रेवेन्यूू कोई मायने नहीं था मेरे लिए। लेकिन फिर अवैध बिकेगी। 24 घंटे पुलिस अवैध शराब के लिए नहीं खड़ी रहेगी।

खबरें और भी हैं…

Follow @ Facebook

Follow @ Twitter

Follow @ Telegram

Updates on Whatsapp – Coming Soon

Latest News

Film City being made in Bihar: Producer Haidar Kazmi’s has constructed Filmcity in an area spread over 12 acres | रंग लाने लगी प्रोड्यूसर...

For breaking news and live news updates, Join us on Whatsapp Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें Smart Newsline...

Salman Khan, after cheat kiss with Disha Patani in Radhe, jokes there’ll be ‘mota parda’ instead of duct tape next time

For breaking news and live news updates, Join us on Whatsapp Salman Khan, famous for his no-kissing policy on screen, got creative in Radhe:...

Ajay Devgn Movie Thank God Shooting, Prabhas Salaar Fees, CORONA Vaccination, Sonakshi Sinha, Urvashi Rautela News Update | कोरोना के चलते अजय देवगन की...

For breaking news and live news updates, Join us on Whatsapp Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें Smart Newsline...

pooja bedi birthday, know some interesting facts about the actress | ‘जो जीता वही सिकंदर’ से मिली थी पूजा बेदी को पहचान, पर्सनल लाइफ...

For breaking news and live news updates, Join us on Whatsapp Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें Smart Newsline...

More Articles Like This