Friday, May 7, 2021

Wrestling Asian qualifiers trial Defeated Narisingh and Amit Dhankad in Asian qualifying trials: coach says – Sandeep aims to win Olympic medal from the age of 13 | पंजाब के पहलवान संदीप सिंह मान ने एशियन ट्रायल में नरसिंह यादव और अमित धनखड़ को हराया

Must Read

UK’s Conservative Party strikes early blow in opposition stronghold

Britain's governing Conservative Party has won a special election in the north of England town of Hartlepool, dealing a...

President Putin compared the Sputnik vaccine to the rifle, saying – it is as reliable, modern and up-to-date as the AK-47 | व्लामिदिर पुतिन...

Hindi NewsInternationalPresident Putin Compared The Sputnik Vaccine To The Rifle, Saying It Is As Reliable, Modern And Up to...

sixth grade girl identified as person who opened fire at an Idaho middle school on thursday, Today Latest News and Updates | इस बार...

Hindi NewsInternationalSixth Grade Girl Identified As Person Who Opened Fire At An Idaho Middle School On Thursday, Today Latest...

  • Hindi News
  • Sports
  • Wrestling Asian Qualifiers Trial Defeated Narisingh And Amit Dhankad In Asian Qualifying Trials: Coach Says Sandeep Aims To Win Olympic Medal From The Age Of 13

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें Smart Newsline ऐप

भारतीय पहलवान दांव-पेंच और प्रोफेशनलिज्म के मामले में काफी आधुनिक हैं और दुनिया के दिग्गज पहलवानों को चुनौती देते हैं। इसके बावजूद देश की कुश्ती में आज भी भारत की संस्कृति और संस्कारों का पालन किया जाता है। इसका एक नजारा मंगलवार को एशियन चैम्पियनशिप के लिए हुए ट्रायल में दिखा।

74 किलोग्राम वेट कैटेगरी में 23 साल के युवा पहलवान संदीप सिंह मान ने सेमीफाइनल में रियो ओलिंपिक का कोटा हासिल करने वाले दिग्गज नरसिंद यादव को हराया। इसके बाद फाइनलमें अमित धनखड़ को मात दी। सेमीफाइनल में संदीप ने नरसिंह को हरा जरूर दिया लेकिन मुकाबले के तुरंत बाद उन्होंने नरसिंह के पैर छुए और एशियन इवेंट में अच्छे प्रदर्शन के लिए आशीर्वाद लिया।

सुशील कुमार ने नाम वापस ले लिया था
दो बार के ओलिंपिक मेडलिस्ट सुशील कुमार भी इसी वेट कैटेगरी के पहलवान हैं। हालांकि, उन्होंने मुकाबले से एक दिन पहले नाम वापस ले लिया था। माना जा रहा था कि इससे नरसिंग और अमित की राह आसान होगी, लेकिन पंजाब के युवा पहलवान ने सबको पटखनी देते हुए एशियन इवेंट का टिकट कटा लिया।

13 साल की उम्र से बना रखा है ओलिंपिक मेडल का लक्ष्य
संदीप के कोच सुखमिंदर सिंह ने बताया कि 13 साल की उम्र से ही संदीप का लक्ष्य ओलिंपिक में मेडल जीतना रहा है। उन्होंने कहा, ‘संदीप को उसके चाचा मेरे पास लेकर आए थे। जब मैने संदीप से पूछा कि कुश्ती क्यों करना चाहते हो, तो उसका जवाब था कि ओलिंपिक में मेडल जीतना है। फिर मैंने भी ठान लिया कि इस बच्चे को ओलिंपिक के स्तर के लिए तैयार करना है। हालांकि कुश्ती में यूपी और हरियाणा के पहलवानों का दबदबा रहता है। ऐसे में हमें काफी चुनौती का भी सामना करना पड़ा। संदीप ने कड़ी मेहनत की है और आने वाले समय में इस वेट कैटेगरी में सुशील के बाद ओलिंपिक मेडल जीतने वाले पहलवान बनेंगे। पूरी उम्मीद है कि वे एशियन क्वॉलिफायर में टोक्यो के लिए कोटा हासिल करेंगे।’

संदीप बोले-ट्रायल में नंबर-1 आना ही लक्ष्य था
संदीप ने बताया कि 74 किलो वेट में काफी फाइट रहती है। उन्होंने कहा, ‘मुझे पता था कि इस वेट कैटेगरी में ओलिंपिक मेडल जीत चुके और ओलिंपिक के लिए क्वॉलिफाई कर चुके पहलवान शामिल हैं। ऐसे में इनको बिना हराए मैं आगे नहीं बढ़ सकता हूं। इसलिए मैने काफी कड़ी मेहनत की। मैने सभी सीनियर पहलवानों की पुराने मैचों की वीडियो देखी। उनके मजबूत और कमजोर पक्ष को जाना। उनके अनुसार रणनीति बनाई और अपनी कमियों को दूर किया। मैं ट्रायल में एक ही लक्ष्य लेकर आया था, कि मुझे नंबर एक पर रहना है। ऐसे में कोई भी पहलवान हो मुझे उससे जीतना ही है।’

नेशनल चैम्पियनशिप में जीतने से मानसिक मजबूती मिली
संदीप ने बताया कि कुछ दिन पहले नेशनल चैम्पियनशिप में मैने फाइनल में जितेंद्र सिंह को हराया था। वहीं दूसरे राउंड में अमित धनकड़ को हराया था। ऐसे में ट्रायल से पहले मैं मानसिक रूप से मजबूत था। चूंकि मैं इन खिलाड़ियों को हरा चुका था, ऐसे में मुझे लग रहा था, कि जब इन्हें एक बार हरा चुका हूं, तो इन्हें दोबारा भी हरा सकता हूं। वहीं मैं नरसिंह यादव से नहीं खेला था। लेकिन मैने इनके वीडियो देखे और अपनी ट्रेनिंग की।’

रोम में वर्ल्ड चैम्पियनशिप के सिल्वर मेडलिस्ट को हरा चुके हैं
संदीप ने कहा, ‘मैं जूनियर लेवल पर वर्ल्ड चैम्पियनशिप में मैं खेल चुका हूं। हालांकि सीनियर लेवल में मैं दो इवेंट में ही भाग ले पाया हूं। हाल ही में मैं रोम में भाग लिया था। वहां पर मैने इस कैटगिरी के वर्ल्ड चैम्पियनशिप के सिल्वर मेडललिस्ट को हराया। हालांकि तबीयत खराब होने के कारण मैं आगे नहीं पहुंच पाया। लेकिन मुझे लगता है कि अगर मैं एक-दो और अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता खेल लूंगा, तो इस कैटगिरी के बड़े पहलवानों को भी हरा सकता हूं।’

वेट को कम करने में हुई परेशानी
उन्होंने कहा, ‘मैं 79 किलो वेट कैटेगरी में था। यह ओलिंपिक कैटेगरी नहीं है। इसलिए 74 किलो में शिफ्ट हुआ। फेडरेशन की ओर से कहा गया था कि नेशनल चैम्पियनशिप में मेडल जीतने के बाद ही ट्रायल में मौका मिलेगा। ऐसे में लॉकडाउन के बाद मैने अपना वेट धीरे-धीरे कम करना शुरू किया। लॉकडाउन में मेरा वेट करीब 86 किलो हो गया था। मुझे वेट को कम करने में परेशानी हुई। लेकिन डाइटिशियन के सहयोग से मैने अपना वेट कम किया।

ओलिंपिक के लिए भारत के पास अब तक चार कोटा
भारत ने टोक्यो ओलिंपिक के लिए कुश्ती में अब तक 4 कोटा हासिल किया है। इसमें बजरंग पूनिया (मेन्स फ्री स्टाइल 65 किग्रा वेट कैटेगरी), विनेश फोगाट (महिला 53 किग्रा), रवि कुमार (मेन्स फ्री स्टाइल 57 किग्रा) और दीपक पुनिया (मेन्स फ्री स्टाइल 86 किग्रा) शामिल हैं।

खबरें और भी हैं…

Follow @ Facebook

Follow @ Twitter

Follow @ Telegram

Updates on Whatsapp – Coming Soon

Latest News

Sonu Sood came forward to help Neha Dhupia and cricketer Suresh Raina, oxygen and injection were delivered on time. | नेहा धूपिया और क्रिकेटर...

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें Smart Newsline ऐपकोरोना महामारी बढ़ने के साथ ही देश में ऑक्सीजन, जरूरी दवाइयों,...

Saba Ali Khan shares montage featuring her family members: ‘We all have a little of the other. Mostly a lot of ma’

Saba Ali Khan, jewellery designer and the sister of actor Saif Ali Khan, on Friday, shared a montage featuring her family members. Taking to...

When Aamir Khan said that he found Salman Khan to be rude and inconsiderate during shooting of andaz apna apna | ‘अंदाज अपना अपना’...

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें Smart Newsline ऐपबॉलीवुड की कल्ट क्लासिक फिल्मों में शुमार 'अंदाज अपना अपना' भले...

COVID-19 crisis: Twinkle Khanna retorts at allegations of ‘richest actor’ Akshay Kumar not helping enough | कोरोना संकट के बीच अक्षय पर लगा मदद...

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें Smart Newsline ऐपएक्ट्रेस और ऑथर ट्विंकल खन्ना ने उस सोशल मीडिया यूजर्स को...

More Articles Like This