Monday, March 1, 2021

Preparations at the Kayad Rest Site; The canopy will be installed according to the need this time | कायड़ विश्राम स्थली में तैयारियां; जरूरत के हिसाब से लगाए जाएंगे इस बार शामियाने

Must Read

Stocks climb more than 2% as investors get back to buying

Stocks are rising across the board on Wall Street as traders welcomed a move lower in long-term interest rates...

Nicholas Sarkozy, caught in election expenses case, had offered a big post to the judge for Favre france ex president news update | निकोलस...

Hindi NewsInternationalNicholas Sarkozy, Caught In Election Expenses Case, Had Offered A Big Post To The Judge For Favre France...

Can Southeast Asian diplomacy end crisis in Myanmar?

The Association of Southeast Asian Nations (ASEAN) holds a meeting of foreign ministers on Tuesday to discuss the crisis...

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें Smart Newsline ऐप

सफाई और समतलीकरण का कार्य शुरू

  • जायरीन की संख्या पर निर्भर होंगे इंतजाम

सूफी संत हजरत ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती के 809 में उर्स में आने वाले जायरीन की संख्या पर इस बार कायड विश्राम स्थली में इंतजाम निर्भर करेंगे। जिला प्रशासन और दरगाह कमेटी जरूरत के हिसाब से ही यहां शामियाने लगाएगी। विश्राम स्थली में शनिवार से तैयारियां शुरू कर दी गई।

एडीएम सिटी गजेंद्र सिंह राठौड़ और अजमेर विकास प्राधिकरण के अधिकारियों के साथ ही दरगाह नाजिम अशफाक हुसैन और सहायक नाजिम डॉ मोहम्मद आदिल सहित विभिन्न अधिकारियों ने विश्राम स्थली पहुंचकर व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया। कमेटी सूत्रों के मुताबिक हर बार 17 से 18 शामियाने जायरीन के लिए विश्राम स्थली पर लगाए जाते थे, लेकिन इस बार कोविड-19 और जायरीन की संख्या अपेक्षाकृत अधिक नहीं होने को देखते हुए शामियाने कम लग सकते हैं । प्रशासन ने यह तय किया है कि जितने जायरीन यहां पहुंचे , उसी हिसाब से शामियाने लगाए जाएं। इस बार मौसम भी ठंडा रहने की वजह से व्यवस्था है मैं भी इसका ध्यान रखा जा रहा है

डॉरमेट्री की साफ-सफाई
विश्राम स्थली में स्थित बहू मंजिला डोर मेट्री की साफ सफाई कराई जा रही से यहां पर बड़ी संख्या में जायरीन ठहर सकेंगे। इसके अलावा अन्य पक्के निर्माणों की भी साफ-सफाई कराई जा रही है। बरामदों में भी जायरीन को ठहराया जाएगा।

नमाज के लिए अलग से बनेगी अस्थाई मस्जिद
जायरीन के लिए उर्स के दौरान नमाज अदा करने के लिए विश्राम स्थली में अलग से अस्थाई मस्जिद तैयार कराई जा रही है। बुजु खाना भी अलग रहेगा। यहां ठहरने वाले जायरीन यहीं पर नमाज अदा कर सकेंगे।

सफाई और समतलीकरण का कार्य शुरू
विश्राम स्थली में सफाई और झाड़ियां हटाकर समतलीकरण का कार्य शुरू करवा दिया गया है। जेसीबी से यहां पर यह कार्य कराया जा रहा है। पेयजल का इंतजाम कराया जा रहा है। उर्स के दौरान जायरीन के लिए पर्याप्त बिजली उपलब्ध हो इसके लिए आवश्यक कदम उठाए गए हैं ।

Follow @ Facebook

Follow @ Twitter

Follow @ Telegram

Updates on Whatsapp – Coming Soon

Latest News

Ankita Lokhande talks about going through depression, says she was in a ‘very bad state’

Ankita Lokhande, in an Instagram live, talked about going through depression but not opening up about it. She said...

Bhumi Pednekar pays emotional tribute to Sushant Singh Rajput on Sonchiriya anniversary, see photos and videos

Bhumi Pednekar shared a number of behind-the-scenes photos and videos from the making of Sonchiriya as the film completed two years of its release....

Nila Madhab Panda: Oscar or not, doesn’t matter, attention of people is important for Kalira Atita

Kadwi Hawa (2017), I am Kalam (2010), and now Kalira Atita — Nila Madhab Panda’s filmography has always consisted of films which talk about...

Rasika Dugal: Still the nervous student when working with Naseer saab

The actor talks about working with her teacher Naseeruddin Shah in a short film and revisits her days as a student in FTII 14...

Ankita Lokhande tells Sushant Singh Rajput’s fans: ‘You don’t know my story, so stop blaming me’ | सुशांत के फैन्स की ट्रोलिंग से परेशान...

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें Smart Newsline ऐपअंकिता लोखंडे ने सोशल मीडिया पर अपना गुस्सा जाहिर किया है।...

More Articles Like This